Home > India > क्या है निपाह वायरस, जानिए कैसे फ़ैल रहा है यह खतरनाक वायरस

क्या है निपाह वायरस, जानिए कैसे फ़ैल रहा है यह खतरनाक वायरस

facts about nipah virus

डेस्क। केरल में इन दिनों निपाह वायरस ने डर का माहौल बना रखा है। पिछले कुछ दिनों में केरल के तटीय शहर कोझिकोड में एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत की वजह यही वायरस बताया गया है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के अनुसार, निपाह वायरस चमगादड़ से फलों में और फलों से इंसानों और जानवरों में फैलता है।

facts about nipah virus

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार, निपाह वायरस एक नई उभरती हुई बीमारी है, जो जानवरों और मनुष्यों दोनों के लिए खतरनाक है। इसे ‘निपाह वायरस एन्सेफलाइटिस’ भी कहा जाता है। बता दें कि निपाह वायरस से केरल में अब तक नौ लोगों की मौत हो चुकी है।

 

यह वायरस पहली बार 1998 में मलेशिया काम्पुंग सुंगई निपाह में सामने आया था। वहीं से इस वायरस को ये नाम मिला। इस वायरस ने सबसे पहले सूअर को अपना शिकार बनाया था। साल 2004 में बांग्लादेश में भी कई लोग इस वायरस की चपेट में आए। आम तौर पर ये वायरस इंसानों में इंफेक्शन की चपेट में आने वाली चमगादड़ों, सूअरों या फिर दूसरे इंसानों से फैलता है।

निपाह वायरस के कारण इस बीमारी के लक्षणों की बात करें तो सांस लेने में तकलीफ, तेज बुखार, सिरदर्द, जलन, चक्कर आना, भटकाव और बेहोशी शामिल है। साल 1998-99 में जब ये बीमारी फैली थी तो इस वायरस की चपेट में 265 लोग आए थे।